इलेक्शन Machine से मिले Whatsapp के अधिकारी, चुनाव से 48 घंटे पहले फेक न्यूज होगी खल्लास!

Whatsapp की टीम चुनाब आयोग्य के Officer Ke साथ ही कांग्रेस और Bjp नेताओ से भी मिली हैं।
इलेक्शन Machine से मिले Whatsapp के अधिकारी,

भारत में सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग Apps Whatsapp धीरे-धीरे फेक न्यूज और अफवाहों का सबसे बड़ा माध्यम बनता जा रहा है। सरकार भी इसे लेकर काफी सख्त है। वहीं, अब सामने आई जानकारी के Anusaar व्हाट्सएप Bhi इन फेक न्यूज को रोकने की कोशिश में लग गई है। कंपनी भारत में फेक न्यूज वेरिफिकेशन मॉडल का Istemal करेगा। इससे पहले इस Model का इस्तेमाल मेक्सिको के चुनाब में भी हुआ Tha।
ईटी की खबर के अनुसार व्हाट्सएप ऐप के अमेरिका हेडक्वॉर्टर और भारतीय ऑफिस के सीनियर ऑफिसर ने चुनाव आयोग के साथ ही बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं से मुलाकात की है। व्हाट्एसप का Kahnaa है कि वह Bharat में आने वाले इलेक्शन में अपने प्लेटफॉर्म पर फैलने वाली फेक न्यूज को रोकने की कोशिश करेगी।
व्हाट्सएप्प- ने आयोग से कहा हैं कि
वोह facebook की तरह इस साल अंत मैं होने वाले बिधानसभा चुनाब से पहले सभी Galat Content फिल्टर करेगी उस यूज़र्स तक नही Pahuchane Hogi  वोटिंग से 48 घंटे
पहके whatsapp इन Feke फ़िल्टर कर हटाएगी।
व्हाट्सएप्प-  अधिकारी ने ईटी हुए बात चीत में बताया की चुनाब में लगने वाली अचार सहिता के  samay वह काफी सतर्क से व्हाट्सएप्प पर फैलाने बाली फेक न्यूज़ पर Lagam Lagane
Ki Puri Kosis Karega Issase Pahle मेक्सीको
पिछले काफी समय से भारत मैं Whatsapp se Failel Rahi Hai
फेक न्यूज़ ओर अफवाहों ने कई लोगो
की जान ली हैं । हिंसा ओर सम्प्रदायक
सोहा धुंद बिगड़ने की लिए Sidhe Toor Par Whatsapp Se Faile Apavah Ko जिमेदार माना जा रहा हैं।      Thanks

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ